Tag: Poem in hindi

Poem on backbenchers in Hindi

कॉलेज के वो दिन, लौट के ना आएंगे। फिर से जैसे दोस्त, ना कभी मिल पाएंगे। कैंटीन कि वह चाय, क्लास के लिए हम कभी समय पर ना पहुँच पाए।.....Read…

+81 पिता पर कविता – Poem on Father in Hindi

एक ऐसी दुनिया में जो अक्सर माताओं को मनाती है, हमारे जीवन पर पिता के जबरदस्त प्रभाव को रोकना और स्वीकार करना महत्वपूर्ण है। वे गुमनाम नायक हैं, चुपचाप हमारी…