Poem in hindi

कविता

Poem on backbenchers in Hindi

कॉलेज के वो दिन, लौट के ना आएंगे।
फिर से जैसे दोस्त, ना कभी मिल पाएंगे।
कैंटीन कि वह चाय, क्लास के लिए
हम कभी समय पर ना पहुँच पाए।…..Read More

Poems on Teacher in Hindi

{Top 10}Short Poem On Teacher In Hindi

व्यार्थ जीवन के राही होते,
“आप ना होते तो हम ना होते,
क्या दुनिया में हम कुछ ना होते हैं
अगर आपके दिए सबक ना होते। Read more Short Poem On Teacher In Hindi

Scroll to Top